reet last time plan

reet last time plan

REET 2021 Last Time Planning & Best Result Tips में आज आपके लिये बहुत कुछ है अब समय बहुत ही कम बचा है हमारी इस पोस्ट की हर एक बात को ध्यान से पढना और अंत तक पढना ||

Dear Students,

All The Best for Bright Future 👍

👉 इस Post को पूरा पढ़ना

जितना हमसे हो सका हमने आपकी निस्वार्थ भाव से आपकी तैयारी करवाई अब आपको ज्ञान की नहीं ध्यान की आवश्यकता है।।

Last 7 days For Exam Last Week Plan

⏺ रीट परीक्षा में अब आपके पास केवल 7 दिन शेष है… यह समय धैर्य एवं संयम बनाए रखने का है…इसलिए इस समय आप यह आंकलन करने का बिल्कुल भी प्रयास न करें कि इस संघर्ष की कङी में आप कहाँ पर है 

⏺ इस अंतिम समय का सदुपयोग करने की छोटी सी रणनीति बनाए… 19 से 22 सितम्बर यानि 4 दिन के रिविजन का एक छोटा सा शेड्यूल बनाए… आपके पेपर में जो 4 खण्ड है- मनोविज्ञान, प्रथम भाषा, द्वितीय भाषा एवं सब्जेक्ट… इनमें से आज प्रत्येक खण्ड से कठिन बिन्दुओं का चयन करके 4 दिन के रिविजन का एक शेड्यूल बनाए… मेरे अनुसार मनोविज्ञान और शिक्षण विधियों का चयन करना चाहिए… ध्यान रखें कि यह रिविजन उसी सामग्री से करे, जो आपने अब तक पढा है और यह शेड्यूल बनाते समय इस बात का भी ध्यान रखें कि केवल 4 दिन के बिन्दु सलेक्ट करे, क्योंकि इस समय कितनी भी मजबूत तैयारी हो लेकिन आपको यह महसूस होगा कि यह भी दुबारा देख ले, यह भी देख ले……. लेकिन ऐसा नहीं करना है, क्योंकि इससे आपका शेड्यूल पूर्ण नहीं होगा और आप तनाव की स्थिति में आ जाओगे…. इन 4 दिन में जो आप रिविजन करो तो इसमें केवल उन बिन्दुओं को पढने का ही काम करें, इस ओर ज्यादा दिमाग न लगाए कि यह याद नहीं हो रहा है…क्योंकि ज्ञान अनन्त है, ना ही सब कुछ सभी को आता है एवं ना ही सब कुछ परीक्षा में आता है और ना ही आपको शत प्रतिशत अंक लाने है 

⏺  इस 4 दिन के शेड्यूल को पूर्ण करने के बाद 23-25 सितम्बर यानि अंतिम 3 दिन आपका कोई शेड्यूल तैयारी का नहीं होना चाहिए… इस समय तनाव बिल्कुल भी न रखें और मानसिक मजबूती बनाए रखें, क्योंकि मानसिक मजबूती सफलता का आधार स्तम्भ है… आपको बार- बार यह लगेगा कि वो फैक्ट याद नहीं है, वो तो दुबारा देखा भी नहीं …इन सभी को दिमाग पर हावी न होने दे , क्योंकि कोई कितना भी बङा ज्ञानी क्यों न हो एवं चाहे कितनी भी लम्बे समय से तैयारी हो लेकिन सब कुछ कंठस्थ नहीं होता है… पढा हुआ सब कुछ अचेतन मन में रहता है और  प्रश्न का ऑप्सन पढते ही याद आ जाएगा 

⏺ इस समय अफवाहों का बाजार भी गर्म रहेगा… सोशल मीडिया का प्रचलन ज्यादा होने के कारण यह अफवाहे लगभग झूठी होती है, बाकि 5-7% हो सकता है कि सच हो लेकिन यह सच है कि 90% मैदान मेहनत वालों का होता है और  मेहनत कभी बेकार नहीं जाती है… यदि आपने अंतिम 3 महिनें ईमानदार से किताबों को दिए है तो ईश्वर आपके साथ जरूर न्याय करेगा 

⏺ आपके परीक्षा केंद्र लगभग अभ्यर्थियों के घर से दूर ही आए है, इसलिए यदि आपका परीक्षा केंद्र 50 किलोमीटर से अधिक है तो आप 25 सितम्बर की शाम तक अपने परीक्षा केंद्र के शहर पंहुच जाए… परीक्षा वाले दिन जाने की रिस्क बिल्कुल भी नहीं ले और कुछ अभ्यर्थी यह प्लान बनाते है कि 4-5 अभ्यर्थी मिलकर गाङी करके सुबह 3 बजे या 4 बजे रवाना हो जाएगें , ऐसा बिल्कुल भी न करें…आजकल प्रत्येक शहर में लगभग 1000 रू तक रहने – खाने की व्यवस्था हो जाती है , आपने पिछले 1 या 2 वर्ष से घर से बाहर रहकर तैयारी की है, कोंचिग भी की है, ऑनलाइन कोर्स भी लिया है तो रिस्क की बजाए यह छोटा सा खर्चा भी कर लो 

⏺ कितने प्रश्न सही होगें, कितने नम्बर आने पर सलेक्शन होगा,इतने नम्बर तो आने ही चाहिए… यह सब घर से तय करके न चले, क्योंकि यह सब कुछ प्रश्न पत्र पर निर्भर करता है 

⏺ परीक्षा की पहली रात को पर्याप्त नींद ले और सुबह अपने परीक्षा केंद्र पंहुच जाए…. जब प्रश्न पत्र मिल जाए तो सबसे पहले उस पर लिखें निर्देशों को ध्यान से पढें और इसके बाद अपने रोल न. एवं  विषय आदि जानकारी ओएमआर शीट में सावधानी से भरें , इसमें बिल्कुल भी जल्दीबाजी न करें… क्योंकि इस समय आपको लगेगा कि अभी समय निकल जाएगा लेकिन ऐसा कुछ नहीं है, पेपर समय के अनुसार ही बनाए जाते है… इसके बाद सर्वप्रथम सरल प्रश्न  हल करें एवं ओएमआर शीट में गोले भरे… इसके बाद शेष प्रश्न करें… ओएमआर शीट में गोले सावधानी से भरे, क्योंकि एक बार गलत गोला भरने पर आप किसी भी दशा में नहीं बदल सकते… प्रश्न सरल आने पर उत्साहित एवं कठिन आने पर हताश न हो… एकाग्रता बनाकर आगे बढते रहे !

दबाव का सामना कैसे करें ?

प्रतियोगी परीक्षाओं का दबाव स्वभाविक हैं। मग़र इतना अधिक दबाव भी न होना चाहिए कि अत्यधिक हतोत्साहित होकर एग्जाम नहीं देंगे तक का फ़ैसला करना पड़े… ये जो आप फॉर्म की संख्या देखकर डर रहे हो न.. उसका दूसरा पक्ष यह है कि इसमें गम्भीर अभ्यर्थियों की संख्या दहाई में है.. बाक़ी बस “ट्राय” करने के लिए फॉर्म भरते है… दहाई के अभ्यर्थी होंगे जिन्होंने अपना पाठ्यक्रम ढंग से 4/5 बार पढा होगा… तो आपको कभी भी लाखों में फॉर्म संख्या देख कर डरना नहीं चाहिए…आप सोशल मीडिया पर जो निरर्थक बहस देखते हो, ये लोग एग्जाम से पहले कट ऑफ बता देते है… ये लोग पेपर में इतने करेंगे तो ही आपका चयन होगा,जैसा मनोवैज्ञानिक दबाव बनाते है. कृपया इन चीज़ों से दूर रहे… कोई टारगेट लेके एग्जाम में न जाए… पेपर की प्रकृति और हमारी तैयारी स्वतः तय करती है कि हमें कितने अंक आएंगे… अपना शत प्रतिशत देते जाएं.. अंतिम दिनों में महत्वपूर्ण चीज़ों का रिवीजन कर लो.. और दुनियादारी से दूर रहे तो ही बेहतर…उलूलजुलुल प्रश्न देखकर,अपनी तैयारी पर संदेह न करें..ऐसे प्रश्न पूरे पेपर में 5 % भी नहीं होंगे.. और कट ऑफ 65%-70% से ऊपर जाती नहीं… तो उस 5% के कारण क्यों दबाव ले रहे, बेहतर है जो बाक़ी भाग है उसको अच्छा कीजिए… पेपर का एक मनोविज्ञान होता है जिसमें 50-60% आसान सवाल होते है… जो आपको हर किताब में मिल जाएंगे… 30-35% मध्यम प्रकार के होते है… ये भी आसानी से मिल जाते है… 5-10% टफ होते है.. हम 5-10% की तैयारी पर जोर देते है, उसको देखकर हतोत्साहित होते है, और उस चक्कर में वो 90% को कहीं न कहीं इग्नोर कर देते है, यही हमारी असफलता का कारण बनता है। हमारी टीम की ओर से आपको ढेरों शुभकामनाएं।।

Planning For Rivision

जिन्होंने अच्छे से तैयारी कर रखी है और अपने नोट्स बना रखें है कृपया उनको Revise करो और ज्यादा से ज्यादा प्रश्न हल करो जो प्रश्न गलत हो केवल उसी को वापस पढ़ो और जितना हो सके ज्यादा से ज्यादा आउटपुट निकलने की कोशिश करो 👍

आपके लिये इस समय अच्छी नींद और अच्छी पढ़ाई ये दो ही चीजें सबसे ज्यादा महत्वपूर्ण है

👉🏻अब बात करते है जिन्होंने तैयारी की है मगर Confidence नहीं आ रहा है

 बार बार Revise करो ऐसा सभी के साथ होता है 👍

👉🏻एक सब्जेक्ट एक दिन में खत्म करो 👍

👉🏻 साईकोलोजी ज्यादा नहीं पढनी है इसका कोई पता नहीं रहता है इस लिए अन्य सब्जेक्ट मजबूत करें।।

👉🏻सब कम्पलीट कर लूंगा इस विश्वास के साथ शुरू करो 

👉 पॉजिटिव होके शुरुआत करने पर दिमाग़ ज्यादा काम करता है

👉 अब जो समय बचा है उसमें ही मेरे को बेहतर करना है और करूंगा तो हो जायेगा ऐसे हार मान लेना अच्छे इंसान की निशानी नहीं

 👉  I can & I will.

👉 निश्चित रूप से आप पहले से बेहतर करोगे 

👉🏻आप आसानी से एक दिन में एक सब्जेक्ट को Complete कर सकते हो

👉 अब लिखना नहीं है सीधा याद करना है

👉 एक एक शब्द लिख सकते हो जो आपके दिमाग़ को Recall करा सके

और हाँ अभी भी रिविजन से आपको फायदा होगा और कम समय में ज्यादा आउटपुट मिलेगा 

👉 It’s my Confidence.

“जो अच्छे से मेहनत करेगा उसको निश्चित रूप से अच्छा परिणाम मिलेगा”

👉 26 सितंबर तक Social Media से दूर रहना हो सके तो Facebook WhatsApp, Instagram को तो अनइन्स्टॉल कर लो

आत्मविश्वास, कड़ी मेहनत और आपके माता पिता तथा गुरुजनों का आशीर्वाद आपको सफल बना देगा।।

Yours Teem Learnwithcp

Rk Yadav ji

CP sir ji

Devdatt Yadav ji

आपकी खुशियों में आपके माता-पिता के बाद सबसे ज्यादा खुशी हमें मिलेगी।।

हो सके तो अपने Best Friend को हमारे बारे में जरूर बता देना 👍

Last 15 Day planning

अंतिम समय व सबसे कठिन दौर में #Reet2021 के अभ्यर्थियों के नाम सन्देश

  1. साथियों अब लगभग 15 दिन शेष है, अब तक जो परीक्षा थी वो आपके ज्ञान की परीक्षा थी लेकिन अब जो 15 दिन परीक्षा होगी वो आपके धैर्य की परीक्षा होगी।
  2. जिसने भी इन 15 दिन धैर्य व संयम बनाये रख लिया सफलता उसी के कदम चूमेगी।
  3. आप ये आंकलन करने का बिल्कुल भी प्रयास नही करें की संघर्ष की कड़ी में आप कहाँ पर है, आपका सलेक्शन होगा या नही होगा। क्योंकि ये तह होगा आपकी इन 15 दिनों की मेहनत से।
  4. आपको सोचना है तो सिर्फ ये कि अब तक जो पढा है उसको रिवीजन कैसे करें इनकी रणनीति बनाये।
  5. आपके पास जो भी मैटर है वो सर्वश्रेष्ठ है, अब कोई भी नया मैटर लाने का प्रयास नहीं करे। और ना ही व्हाट्सएप व टेलीग्राम के pdf नोट्स के चक्कर मे पड़े।
  6. प्रश्नों की प्रैक्टिस आप किसी मॉडल पेपर से करे बजाय किसी ऑनलाइन प्लेटफार्म के। व्हाट्सएप टेलीग्राम पर जितने भी प्रश्न आते है उनको इग्नोर करने का प्रयास करे।
  7. ज्ञान अनन्त है ना ही सब कुछ सबको आता है ना ही सब कुछ परीक्षा में आने वाला है और ना ही आपको शत प्रतिशत अंक लाने है। इसलिए आपने अब तक जो पढा है वो प्रयाप्त है। उसका रिवीजन करे।
  8. इन अंतिम दिनों में सिर्फ मॉडल पेपर पर ही निर्भर ना रहे, जो मैटर अब तक पढा है उसका रिवीजन जरूर करें।
  9. सबसे महत्वपूर्ण बात कि आप जब अंतिम बार रिवीजन कर रहे होंगे तब ये बिल्कुल भी सोचने का प्रयास ना करें कि आपको ये कंसेप्ट या फेक्ट याद है या नहीं। क्योंकि मैटर कंठस्थ कोई नही कर सकता चाहे वो कितना भी ज्ञानी क्यों ना हो।
  10. चिंता करने की कोई आवश्यकता नही है सारी चीजें आपके अचेतन मन/दिमाग मे सेव है जैसे ही आपके सामने प्रश्न और चार ऑप्शन आएंगे आपके दिमाग मे अपने आप सही उत्तर आ जायेगा।
  11. अंतिम बात कि अगर आपने पिछले 2-3 महीनो में किताबो के साथ न्याय किया है तो ईश्वर आपके साथ जरूर न्याय करेगा।
    अग्रिम शुभकामनाएं

पेपर कैसे हल करना है इस बारे में आपको सही समय पर जानकारी उपलब्ध करवा देगें अभी उसकी टेन्सन छोड़कर अध्ययन करें।।

➖➖➖➖➖➖➖

# Reet #2021  डर के साथ बड़ी सफलता असंभव

भय को भयभीत करो । योद्धा हो तुम युद्ध करो।।

डरे हुये लोग सोंचते बहुत हैं ! और ज्यादा सोंचने वाले रिस्क नहीं ले सकते ! ज्यादा सोंचने वाले, समय खूब बर्बाद करते हैं ! डर से नर्वसनेस और नर्वसनेस से होता हुआ काम भी खराब हो जाता है ! डरे हुए लोग समझौता कर लेते हैं, कुछ भी हो जाये, बोल्ड डिसीजन नहीं लेते ! डरे हुए लोग खुद की गलतियों की जिम्मेदारी दूसरों पर और परिस्थितियों पर डालते हैं ! डर से असुरक्षा की भावना आती है ! असुरक्षित दिमाग, सटीक निर्णय नहीं ले सकता ! डर के कारण दिमाग तार्किक विचारों को दृढता से रखने की बजाय, फेल होने के बाद की स्थिति पर फोकस ज्यादा करता है ! डर, किसी को भी, उसकी वास्तविक ऊंचाई से खींचकर, नीचे, बहुत नीचे लाकर सेट कर देता है ! डर वो भारी भरकम बोझ है जिसको ढोने वाले बहुत ऊपर नहीं जा सकते ! डर और ऊंचाई दोनो एक साथ नहीं रह सकते ! एक को चुन लीजिये ! बेहतर है, डर को डराइये ! इतना डरा दीजिए कि फिर कभी आपके आसपास भी नजर न आये ! नफरत करिये डर से ! आपको क्या सोंचना है, ये तो आपके हाथ में ही हैं ! 

उठकर खड़े होइये, लम्बी सांस लीजिए और सख्त हिदायत दीजिए अपने दिमाग को, कि अपनी हद में रहे ! प्रतिज्ञा कर लीजिए, कि डर जब भी आपके आसपास दिखेगा, आप पहली फुरसत से मार भगाएंगे ! बात तो तब है, जब, जहां आप हो, दूर दूर तक डर दिखना भी नहीं चाहिए ! 

बिंदास जियो यार ! जम कर मेहनत करो ! जितना दिमाग ईश्वर ने दिया है, सब लगाइये प्लानिंग पर ! हर ऐंगल के लिये प्लानिंग कीजिये ! गलतियों को फटाफट पकड़िये और ठीक कीजिए ! अपनी ओर से हर संभव कोशिश कीजिए ! उसके बाद जो भी परिणाम आये, सहर्ष स्वीकार करिये ! अच्छा आये तो उससे अच्छी क्या बात है ! और अगर मन मुताबिक न आये तो गलतियों को स्वीकार करके आगे बढ जाना ! और फिर से लग जाना, और ज्यादा ऊर्जा के साथ, और ज्यादा परिपक्वता के साथ, और बड़े टार्गेट के लिए ! 

हाथ जोड़कर विनती है, बस डरना नहीं है, चाहें जो हो जाये !

आपकी सहुलियत के लिए हमने विषयवार कुछ अच्छे और पूर्व परीक्षाओं में आये हुए प्रश्नों को ऑनलाइन टेस्ट का रूप दे दिया है जिससे आप 5 मिनट में ही पेपर सबमिट करें और तुरंत रिजल्ट प्राप्त करें जिनका लिंक हम आपको नीचे उपलब्ध करवा रहे हैं।।

➖➖➖➖➖➖➖

हिन्दी भाषा के लिए👇🏻👇🏻

शिक्षा मनोविज्ञान के लिए👇🏻👇🏻

गणित के लिए👇🏻👇🏻

पर्यावरण अध्ययन के लिए👇🏻👇🏻

संस्कृत के लिए👇🏻👇🏻

राजस्थान सामान्य ज्ञान के लिए👇🏻👇🏻

क्या करें व क्या नहीं करें?

1. डरें नहीं, डर Control करें,

2. परिणाम के बारे में ज्यादा नहीं सोचे ।

3. कोर्स 4-5 बार कर लिया तो Objective निकाले , पुराने पेपर REET 2015,2018 के प्रश्नों को हल करें।।

4. पलायन का मन करे, तो चिंता नहीं करें।

5. बदलाव करें, पुस्तक को Last से पढ़ना शुरू करें । 

6.  खुद के Notes का रिविजन करें।

7. सभी विषयों पर बराबर ध्यान दें ।

8. किसी एक Topic की ज्यादा गहराई में नहीं जाएं। 

9. बोर हो तो 5-10 मिनट मनोरंजन | संगीत का सहारा लें |

10. पांच मिनट कपालभाती पांच मिनट अनुलोम जरूर करें। 

11.आंख बन्द कर रिनाईन करें 

12. Online Test में आने वाले परिणामों या Rank को हल्के में लें 

13. अपने स्वास्थ्य का ख्याल रखें ।

14. प्रतिदिन 8-10 घंटे अवश्य निकाले ।

15. सभी विषयों को साथ लेकर चलें |

16. एक महीना गति बनाए रखें । 

17. भटकाव से बचे । अफवाहों से बचे।

18. ईश्वर, माता-पिता – परिजन के आशीर्वाद में विश्वास रखें

19. सकारात्मक सोचे, स्वयं से सकारात्मक संवाद करें।

20. लोगों और पड़ोसियों की बातों को नजर अंदाज करें।

21. आपका कर्म अध्ययन है, यही पूजा है, इसे तल्लीनता, प्रसन्नता, एकाग्रता, शिद्धत व मनोयोग से करें जरूर कामयाब होंगे |

22. सोशल मीडिया फेसबुक, यूट्यूब, व्हाट्सएप आदि से दूर रहें बहुत जरूरी हो तो टाईम फिक्स कर सकते हैं ।।

23. कट ऑफ क्या रहेगी,पेपर कैसा रहेगा, इस प्रकार के प्रश्नों से दूरी रखें आपका काम है सतप्रतिशत देना वो करें।।

24. अब बाजार से नई किताब,नोटस लेने का समय नहीं है अतः पुराने को ही बार बार रगड़ें।।

25. शिक्षण विधियों के प्रश्नों को हल करें फेक्ट सभी में समान होते हैं व एप्लाइड प्रश्नों पर सकारात्मक और बेस्ट उत्तर खोजने का प्रयास करें।। इनमें दो से तीन उत्तर सही होते हैं बट बेस्ट कौनसा है वर्तमान परिस्थितियों में।।

26. सिलेबस से बाहर कदम ना रखें , ज्ञानी बनने के लिए बहुत समय मिलेगा तब बन लेना ।।

27. फेसबुक और व्हाट्स ऐप पर ज्यादातर वे प्रश्न फारवर्ड होते हैं जिनके दो उत्तर सही होते हैं या एक भी नहीं, गलत एवं मिस प्रिंटिंग बाले अत: ऐसे प्रश्नों पर विवाद से बचना ही बेहतर है इतने समय में में 5 अन्य प्रश्नों का उत्तर याद कर सकते हैं ।।

28. सरल प्रश्न सदैव ही मैरिट बनाने और बिगाड़ने का काम करते हैं (आते आते भी गलत कर दिया यार) अत: सोच समझकर

29. प्रश्न का उत्तर तब तक ना दें जब तक चारो ऑप्शन पढकर समझ नहीं जायें आवश्यकता हो तो अंग्रेजी अनुवाद देखें 2-4 प्रश्न अंग्रेजी से ही सही होते हैं।

30. जो उत्तर आपने लगा दिया पहली बार में और बाद में चलते चलते बदलने की गलती ना करें पहली बार में दिल दिमाग सही संकेत करते हैं फिर होशियार बनने की कोशिश ना करें।।

how to score in Reet exam,how to get high score in Reet exam,       how to score good marks in Reet exam,how to score marks in Reet exam, How can I prepare for Reet 2021?,Is Reet exam easy?,Which book is best for Reet exam?,What is the age limit of Reet 2021?,

1 thought on “REET 2021 Last Time Planning & Best Result Tips

  1. Pingback: REET 2021 Admit Card, Exam Date, Centre reetbser21.com - Job Khaber

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!